भारत के इस राज्य में हैं एक ऐसी जेल जहां बंद है सिर्फ एक कैदी, जानिए कौन है वो कैदी जिसपर खर्च होते हैं इतने रूपये

अकसर आपने अपने देश में जेलों के हालत और कैंदियों की स्थिति को लेकर कई बातें सुनी होंगी, हम जानते हैं कि देश में कैदियों की संख्या कम नहीं है जेल में कैदियों की अधिक मात्रा देखने के चलते उसी हिसाब से बैरक कम लगवाए जाते हैं लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जेल के बारे में बताने जा रहे हैं जहां मात्र एक ही कैदी है जेल भी ऐसी है कि वो पानी के बीचों बीच हैं तो आइये जानते हैं उस जेल के बारे में…

बता दें कि ये जेल केंद्रशासित प्रदेश दीव में यह जेल है ये जेल देखने लायक है समंदर के बीचों बीच ये कैदखाना देखने में काफी आलीशान लगता है. इस जेल की जेल की इमारत करीब 472 साल पुरानी है, इस जेल में एक कैदी बंद है जिसका नाम दीपक कांजी है जो 30 साल का है इस कैदी पर पत्नी की जहर देकर हत्या का आरोप है, लेकिन बता दें कि दीपक कुछ ही दिनों का मेहमान नहीं है दीपक की ट्रायल खत्म होने के बाद उनको दूसरी जेल में शिफ्ट कर दिया जायेगा.

दीपक कांजी की सुरक्षा के लिए सिपाही और 1 जेलर की तैनाती की गई है. खबरों के मुताबिक बताया गया है कि एक कैदी पर सरकार 32 हजार रुपये खर्च करती है, यह रकम दूसरे राज्यों के मुकाबले बहुत ज्यादा है.

इस जेल की खास बात यह है कि जिस बैरक में दीपक रहता है उस बैरक में 20 कैदियों की जगह है एक कैदी होने के कारण खाना पड़ोस के रेस्टोंरेट से आता है, इस जेल में आध्यात्मिक चैनल देखने की अनुमति है. जेल में गुजराती अखबार और मैग्जीन दी जाती है.

NEWS SOURCE. navbharattimes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *