हर काम में आपको सफलता दिलाएगा माँ दुर्गा का ये सबसे प्रिय मंत्र बरसेगा इतना धन की आप संभाल नहीं पाओगे…

मनुष्य के जीवन में ग्रहों की चाल का बहुत बड़ा महत्व होता है, इनकी चाल से सीधा हमारे सामान्य जीवन पर असर पड़ता है। किसी ग्रह की दशा बदलने से राशियों की दशा भी निरन्तर बदलती रहती है जिससे हमको कई बडी परेशानियाँ उठानी पड़ती है आज हम आपको ऐसे मन्त्र के बारे में बताने वाले है जिनका जप करने से आपकी सभी परेशानियाँ ख़त्म हो जाएँगी और आपके घर पर माँ दुर्गा की कृपा बरसेगी ,इन मंत्रो के बारे में हम आपको नीचे बता रहे है! ये समय सभी माँ के भक्तो के लिए बहुत अच्छा है इस समय नौ माँ के दिन चल रहे है इन दिनों में जो भी इनकी सच्चे मन से पूजा करता है अर्चना करता है और व्रत रखता है उसको वर्ष भर कोई परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है और सभी कामो में माँ इनको सफलता प्रदान करती है !

जैसा की हम सभी जानते है की इस समय गुप्तनवरात्री चल रही है,जिससे माँ अम्बे की कृपा बरस रही है इस समय अगर आप नीचे दिए गए मंत्रो का जप करेंगे तो माँ की अपार कृपा आप पर होगी और आपके सभी काम पूरे होंगे !पुराण में बताया गया है की इस समय जो भी व्यक्ति सच्चे मन से माँ की पूजा करते है ,माँ का व्रत रख कर रोज माँ के इन मंत्रो का जप करते है तो आप पर माँ की कृपा होगी और सभी बिगड़े काम बनेगे !

1.या देवी सर्वभूतेषु लक्ष्मीरूपेण संस्थिता,

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ।।

2.या देवी सर्वभूतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता,

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः।।

3.ॐ जयन्ती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी।

दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तुते।।

4.सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।

शरण्ये त्र्यंबके गौरी नारायणि नमोऽस्तुते।।

5.या देवी सर्वभूतेषु दयारूपेण संस्थिता,

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः।।

6.या देवी सर्वभूतेषु बुद्धिरूपेण संस्थिता,

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः।।

7.या देवी सर्वभूतेषु तुष्टिरूपेण संस्थिता,

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः।।

8.या देवी सर्वभूतेषु मातृरूपेण संस्थिता,

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *