8 मैच में 1160 रन बनाने के बावजूद इस धुरंधर को नहीं मिल रही टीम इंडिया में जगह..देखें आंकड़े..

मित्रों हमारे देश में क्रिकेट को लेकर एक अलग ही उत्‍सुक्‍ता देखने को मिलती है, जिसकी मुख्‍य वजह इन दिनों हुये लगातार कई मुकाबले है, जिनमें भारतीय टीम की कुछ मैंच मुकाबलों में शानदार जीत हुई, तो कुछ ऐसे भी मुकाबले रहे है, जिसमें शर्मनाक हार का सामना भारतीय टीम को करना पड़ा, इसी को ध्‍यान में रखते हुये इस बार टेस्‍ट के पहले टीम में कुछ बदलाव देखने को मिल सकते है, पर आज एक ऐसे दिग्‍गज खिलाड़ी की बात करने वाले है, जो 8 मैचों में 1160 रन बनाने रिकॉर्ड सके नाम है, फिर भी भारतीय टीम में उसका जगह नही मिली, नाम जानकर आप भी हैरानी में पड़ जायेगें।
आपको बता दें कि जिस खिलाड़ी की आज हम बात कर रहे है, वो एक बेहतर खेल अभिनय कर सकता है, अगर उसे अवसर मिलता तो, पर उसको भारतीय टीम में सामिल नही किया गया है। वहीं अगर बात की जाये इंग्‍लैड की टीम की तो वह भी बेहतर फार्म में चल रही है। इसकी मुख्‍य वजह यह है, कि टीम के अच्‍छे प्रदर्शन के चलते इंग्‍लैड लगतार कई मुकाबलों में अपनी जीत दर्ज कराता जा रहा है। उदाहरण के तौर पर वनडे सीरीज के मुकाबलों को ले सकते है। आज हम आपको भारत के एक ऐसे बल्लेबाज के बारे में बताने जा रहे जों अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं फिर भी उसे भारतीय टीम में जगह नहीं मिल सकी, अब आप यही सोच रहे होगें कि आखिर ऐसा कौन सा बल्‍लेबाज है?

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि आज जिस युवा बल्‍लेबाज की बात की जा रही है, वो और कोई नही बल्कि मयंक अग्रवाल है। आपको बता दें कि मयंक ने अभी तक 8 घरेलू मैच खेले गये, इस दौरान उन्‍होंने 1160 रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया था। इस बीच मयंक ने 5 शतक और दो अर्द्धशतक लगाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम दर्ज किया है।
साथ ही आपको बता दें कि मयंक का इस वर्ष 105.45 की औसत जबकि 68.80 का स्‍ट्राइक रेट के साथ बल्‍लेबाजी की थी। इनका ऐसा खेल अभिनय देख सभी ऐसी कयासे लगा रहे थे, कि इनको इस बार भारतीय में जगह मिल सकती है, पर ऐसा नही हो पाया। इस संबंध में आप लोगों की क्‍या प्रतिक्रियायें है?कमेंट बॉक्‍स में अपनी महत्‍वपूर्ण रॉय अवश्‍य लिखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *